वायरल फीवर या मौसमी बुखार के लक्षण कारण चिकित्सा, घरेलू उपचार, व रोकथाम या बचाव के विषय मे पूरी जानकारी| वायरल फीवर क्या है, यह क्यों होता है| viral fever hindi

Viral Fever : Causes, Symptoms, Treatment, Prevention, Care In Hindi 


  दोस्तो, वायरल फीवर को मौसमी बुखार भी कहा जाता है अर्थात किसी खास मौसम में होने वाला बुखार । वायरल फीवर अक्सर बरसात के दिनो में होता है और यह बड़ी तेजी से फैलता है । इसकी सबसे खास बात यह है कि यह बीमारी को 1*5 करने में मास्टर है अर्थात यदि परिवार के किसी एक व्यक्ति को वायरल फीवर  हो जाए तो कुछ ही दिनो में यह परिवार के अन्य सदस्य को भी अपने गिरफ्त मे ले लेता है ।

  तो आइये जाने वायरल फीवर क्या है, यह क्यों होता है, यह कितने दिन रहता है । इसमें क्या खाएं । वायरल फीवर में नहाना चाहिए या नही । वायरल फीवर के लक्षणो, कारणो, चिकित्सा, घरेलू उपचार एवं रोकथाम के बारे में ।

  वायरल फीवर अन्य प्रकार के बुखारों से बिल्कुल अलग है । वायरल फीवर की सबसे खास बात ये है कि यह 5 से 7 दिनों तक बने रहने के बाद खुद-ब-खुद चला जाता है मगर फिर भी वायरल फीवर में हमें विशेष सावधानी बरतने की जरूरत है । वायरल फीवर में अक्सर बुखार चढने के साथ-साथ ठंड महसूस होती है ।
----------

लक्षण


  • बुखार के साथ-साथ रोगी के सर में या पूरे शरीर में दर्द होना ।
  • कभी-कभी सर्दी जैसा महसूस होना ।
  • रोगी को खांसी भी आ सकती है ।
  • बुखार ज्यादा दिनों तक रहने पर प्लेटलेट्स घट सकते हैं ।

रोकथाम


  • रोगी को अधिक से अधिक साफ सफाई रखना चाहिए ।
  • इसमें खांसना, छींकना एक आम बात है इसलिए उसे खांसते, छींकते समय रुमाल का प्रयोग अवश्य करना चाहिए अन्यथा इस बीमारी का घर के अन्य सदस्यों में भी फैलने का खतरा होता है ।
  • रोगी को ज्यादा से ज्यादा घर पर रहना की चाहिए ।
----------

इलाज


  • बुखार के ज्यादा होने की स्थिति में, साफ पानी में बर्फ का टुकड़ा डालकर, उसमें एक सूती कपड़ा भिगोकर एवं उसे अच्छी तरह निचोड़ने, उससे रोगी का पूरा शरीर तबतक पोछना चाहिए जब तक कि उसके शरीर का तापमान सामान्य ना हो जाए ।
  • रोगी को अत्यधिक पानी पीने की सलाह देनी चाहिए ।
  • रोगी के शरीर में पानी की कमी किसी भी हाल में ना होने पाए इसलिए उसे ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थ ही दें । उसे ऐसे फलों को देना चाहिए जिसमें पानी प्रचुर मात्रा में मिलता हो ।
  • रोगी को दाल का पानी भी दे सकते हैं ।
  • प्लेटलेट्स की जांच जरूर कराए घटने की दशा में पपीते के नवीनतम पत्तो का सेवन करें प्लेटलेट्स बढाने का यह सर्वोत्तम घरेलू उपाय है ।

   Writer
  Karan "GirijaNandan"
 With  

  यदि आप के पास भी कोई हेल्थ आर्टिकल, कहानीशायरी कविता , विचार, कोई जानकारी या कुछ भी ऐसा है जो आप इस वेबसाइट पर प्रकाशित करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपने नाम और अपने फोटो के साथ हमें इस पते पर ईमेल करें:-
  हम  आपकी पोस्ट को, आपके नाम और आपकी फोटो (यदि आप चाहे तो) के साथ यहाँ पब्लिश करेंगे ।

  तो दोस्तो अब आप जान गए होंगे कि वायरल फीवर क्या है, वायरल फीवर (मौसमी बुखार) क्यों होता है, यह कितने दिन रहता है और वायरल फीवर में क्या खाएं ।

  वायरल फीवर (मौसमी बुखार) के लक्षणो, कारणो, चिकित्सा, घरेलू उपचार एवं रोकथाम के बारे में लिखा गयाा यह लेख आपको कैसा लगा कृपया, नीचे कमेंट के माध्यम से हमें जरूर बताएं । लेख यदि पसंद आया हो तो कृपया इसे Share जरूर करें !

हमारी नई पोस्ट की सुचना Email मे पाने के लिए सब्सक्राइब करें

loading...